सपना ३२


इंडिया गेट पर खड़ा हूँ; सामने पटरी पर कुछ लोग बैठे हैं; चर्चा GST पर है; सभी जवान हैं (जवान चाहे सेना में हो चाहे पटरी पर देशभक्ति मे डूबा रहता है) और बातों मे गर्मी, जोश और आशा है … साथ ही पटरी पर एक आदमी अपनी दूकान लगाए बैठा है – छोटे छोटे खिलोने बेच रहा है – लेकिन सबसे शानदार वो खिलौना है – वो छोटा कुत्ता जो लगातार अपना सर “I AGREE ” वाले तरीके से हिलाता चला जा रहा है …..समझ नहीं आता कुत्ता किस बात पर स्वकृति ठोक रहा है??

कुछ कहना चाहोगे ?

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s