लघु कथा २६


लघु कथा २६
पहला : तेरा सर्विस प्रोवाइडर कौन है ?
दूसरा : वोडाफोन
पहला : यार उसकी तो सर्विस बेकार है
दूसरा : हाँ यार, पहले एयरटेल था; वो भी बकवास था
पहला : मेरा आईडिया था,कनेक्टिविटी का इशू था, बदल कर एयरसेल लिया, बेकार !!
तीसरा : मेरा सर्विस प्रोवाइडर तो मोदी है
पहला : और उसकी सर्विस कैसी है ?
तीसरा : यार सर्विस छोड़ यार; उससे थोड़ा दिल का रिश्ता बन गया है यार; सर्विस छोड़… वो बढ़िया है
पहला : पर है तो सर्विस प्रोवाइडर ही
दूसरा : और सर्विस प्रोवाइडर से मोहबात ठीक है लेकिन …
तीसरा (बीच में) : मैं मोदी का लॉयल हूँ, और वो सर्विस प्रोवाइडर होकर भी मेरा भगवान् है .. सर्विस छोड़

कुछ कहना चाहोगे ?

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s